पुरुष को जोश कब आता है? पुरुष को जोश में लाने के 13 तरीके | Purush ko josh kab aata hai

पुरुष को जोश कब आता है | Purush ko josh kab aata hai : दोस्तों हम आज उस महिला के ऐसे प्रश्नों का जवाब देने जा रहे हैं जिस महिला के पति भी  रिलेशन बनाने के दौरान जोश की कमी पाई जाती हैं अगर आपके पति रिलेशन बनाने के दौरान आपको रिलेसन सुख नहीं दे पा रहे हैं.



पुरुष को जोश कब आता है | Purush ko josh kab aata hai

उनके अंदर उत्तेजना या जोश की कमी है जिसके चलते आपको रिलेसन सुख प्राप्त करने में बाधाएं आती हैं। अगर आपके पति रिलेशन के दौरान जोश में कमी पाते हैं तो आप अगर चाहे तो इनके अंदर एक बेइंतहा जोश पैदा कर सकती हैं.

क्योंकि उसके अंदर ऐसे कई अंग होते हैं जिनको अगर स्त्री छू लेती है तो फिर उसके अंदर आवश्यकता से अधिक जोश पैदा हो जाता है। ज्यादातर महिलाएं पुरुषों के साथ रिलेशन बनाने के दौरान उनके अंग प्रत्यंग से नहीं खेलते हैं जिसकी वजह से उनके अंदर जोश कम हो जाता है और वह स्त्री रिलेसन सुख से वंचित हो जाती हैं।

♦ लेटेस्ट जानकारी के लिए हम से जुड़े ♦
WhatsApp ग्रुप पर जुड़े 
WhatsApp पर जुड़े 
TeleGram चैनल से जुड़े ➤
Google News पर जुड़े 

आप एक महिला हैं और हर पुरुष भी चाहता है कि उसकी पत्नी रिलेसन सुख से वंचित ना रहे जिसकी व भरपूर कोशिश करता है लेकिन पत्नी ही अपने पुरुष के अंदर जोश भरने में नाकाम रहती हैं क्योंकि जिस प्रकार पुरुष फोरप्ले करता है अगर उसी तरह से स्त्रियां भी फोरप्ले करते हैं तो दोनों में जोश की कमी नहीं रहती हैं।

हर महिला चाहती है कि उसका पति उसके साथ जब भी रिलेशन बनाए तो पूरे जोश के साथ रिलेसन सुख प्राप्त कराएं लेकिन देखा गया है कि बहुत सारे पुरुष वैवाहिक जीवन में स्त्री के साथ रिलेशन बनाने में कमजोर महसूस करते हैं.


जिससे स्त्री और स्वयं को एक आनंद पूर्वक रिलेसन सुख नहीं प्राप्त कर पाते हैं क्या आप भी एक स्त्री हैं और पति के अंदर जोश पैदा करना चाहती हैं तो पुरुष को जोश कब आता है,? कैसे आता है ?आइए हम आपको इस संबंध में बताते हैं।

दोस्तों स्त्री और पुरुष जैसे ही युवावस्था में प्रवेश करते हैं, वैसे ही शरीर में कुछ ऐसे हार्मोन स्रावित होते हैं, जो एक दूसरे के प्रति आकर्षण पैदा करते हैं जिसकी वजह से स्त्री और पुरुष यह लड़का और लड़की शारीरिक संबंधों की ओर झुकाव लेते हैं। कहीं ना कहीं एक दूसरे के प्रति आकर्षण होने की वजह से जब शारीरिक संबंधों से गुजरते हैं तो उनमें एक भरपूर जोश होता है।

पुरुष को जोश कब आता है ? | Purush ko josh kab aata hai ?

जब एक लड़का और लड़की वैवाहिक बंधन में बंध जाते हैं तो उसके बाद वीर रिलेशन से गुजरते हैं ऐसे में रिलेशन बनाने के दौरान अगर पुरुष के अंदर या स्त्री के अंदर जोश नहीं होता है तो शारीरिक संबंधों का मजा नहीं मिल पाता है और रिलेसन सुख से वंचित हो जाते हैं।

वैवाहिक जीवन में स्त्री और पुरुष को रिलेशन बनाने के दौरान अगर पुरुष में जोश की कमी है तो महिलाओं को समझना चाहिए कि और उसमें जोश कब आता है ऐसे कौन से अंग हैं जिनको छूने से पुरुष के अंदर जोश आ जाता है चलिए हम महिलाओं की इस सांत्वना को साबित करने के लिए यह बताएंगे कि पुरुष को जोश कब आता है?

अगर कोई भी स्त्री अपने साथ ही पार्टनर को रिलेशन के दौरान उत्तेजित करना चाहती है तो पुरुष के शरीर में ऐसे कई अंग है जो काफी संवेदनशील होते हैं यदि महिलाएं उन अंगों को स्पर्श करती हैं तो पुरुष के अंदर अत्यधिक जोश भर जाता है। रिलेशन के दौरान नाजुक अंगों को छूने से पूरे शरीर में हल्का सा रोमांच उत्पन्न होता है और उत्तेजना भर जाती है।

जिस प्रकार से किसी भी महिला के नाजुक अंग छूने से उसके अंदर उत्तेजना उत्पन्न होती है ठीक उसी प्रकार से पुरुषों के भी कुछ अंग ऐसे हैं जिनको मात्र टच करने और सहलाने से उत्तेजना उत्पन्न हो जाती है आइए हम इन अंगों के बारे में जानते हैं।

1. जीभ से जीभ का स्पर्श

रिलेशन के दौरान अगर कोई भी महिला अपने साथी पुरुष के साथ जीव को मुंह में भर कर passionate kiss करती हैं तो पुरुष को जोश आ जाता है। जब महिला पुरुष की जीभ को अपने मुंह में भर्ती है और होठ से होठ टकराते हैं तो पुरुषों के अंदर जोश पैदा होने लगता है उन्हें बहुत ज्यादा उत्तेजना होती है।

होंठ चाटना या चबाना

हालांकि जीव के साथ होठों का चुंबन भी पुरुष की उत्तेजना का एक अंग है जब होठों से होठ मिलते हैं तो अजीब सी सिरहन पैदा होने लगती है जो पुरुष को उत्तेजित करती हैं।

2. घुटनों के पीछे के अंग

पुरुषों में घुटनों के पीछे का अंग भी काफी संवेदनशील होता है जो रिलेशन के दौरान उत्तेजना या जोश भरने का कार्य करता है जब कोई भी महिला रिलेशन बनाती है उस दौरान अगर महिला द्वारा पुरुष के घुटनों के पीछे के अंग को सहलाया जाता है तो पुरुष उत्तेजित होने लगता है

3. छाती को चूसना या मसलना

महिलाओं की भांति भले ही पुरुषों के छाती उभरे हुए नहीं होते हैं लेकिन रिलेशन के दौरान काफी संवेदना उत्पन्न होती है जब कोई महिला शक्ति उसके छाती को हल्के हाथों से सहलती है तो यह एक रिलेसन करने के दौरान जोश का काम करते हैं। किसी भी महिला द्वारा पुरुषों के छाती को छूना जोश को बढ़ावा मिलता है।

4. गर्दन के पास चुंबन करना

love

अधिकांश महिलाओं को यह नहीं पता होता है कि पुरुष की गर्दन एक ऐसा संवेदनशील अंग है जिसको रिलेशन के दौरान अगर छुआ जाता है तो व्यक्ति के अंदर झनझनाहट पैदा होती है अगर गर्दन के आसपास महिला चुंबन करती है तो पुरुष के अंदर अत्यधिक जोश पैदा होता है.

5. कान के पीछे का हिस्सा

पुरुष के कान के पीछे का हिस्सा भी उत्तेजना और जोश के लिए बहुत ही संवेदनशील होता है रिलेशन के दौरान कान के पीछे अगर चुंबन करते हैं या सहलाते हैं तो पुरुष उत्तेजित होता है और रिलेशन के दौरान पूर्ण जोश होता है।

6. पैर पर हाथ सहलाना

दोस्तों जिस प्रकार महिलाओं के पैरों को सहलाने से महिलाएं उत्तेजित होती हैं इसी प्रकार से पुरुष भी पैरों के निचले हिस्से और जांघों के आसपास के हिस्से को अगर महिला सह लाती है मसाज करती है तो पुरुष के अंदर झनझनाहट पैदा होती है और जोश कई गुना बढ़ जाता है

( यह लेख आप OSir.in वेबसाइट पर पढ़ रहे है अधिक जानकारी के लिए OSir.in पर जाये  )

पुरुष के जननांगों के पास पैरों के हिस्सों पर अगर हल्का मसाज चुंबन किया जाता है तो पुरुषों में उत्तेजना भर जाती हैं क्योंकि यह अंग काफी सेंसिटिव होते हैं जिसमें एक सहलाने पर एक उत्तेजना पैदा होना शुरू होती हैं

7. जांघ के पास सहलाना

desire

पुरुष में जांघों के पास संवेदनाएं अधिक होते हैं खासतौर पर गुप्तांग के आसपास का स्थान जब रिलेशन के दौरान महिलाओं के द्वारा सुआ जाता है तो पुरुष में जोश भर जाता है पुरुष के गुप्तांग के पास का अंग रिलेशन के लिए प्रेरित करता है

8. कमर को हाथो से पकड़ना

जिस प्रकार पुरुष महिलाओं की कमर में हाथ डाल कर उसे उत्तेजित करने का प्रयास करता है ठीक उसी प्रकार से अगर महिला भी पुरुष की कमर में हाथ डालकर फोरप्ले करती है तो पुरुष उत्तेजित होने लगता है

9. पुरुष के अंडकोष पर हाथ रखना

पुरुषों को जोश कब आता है यह बात महिलाओं को बहुत कायदे से समझना चाहिए क्योंकि अक्सर महिलाएं रिलेशन बनाने के दौरान पुरुष के साथ किसी भी प्रकार कि कोई एक्टिविटी करने से हिचकिचाती हैं।

लेकिन रिलेशन का आनंद लेना है तो पुरुषों को उत्तेजित करना जरूरी है. इसलिए जब भी आप रिलेशन बनाने का मूड करें तो पुरुषों के अंडकोष की थैलियों को हाथों से या जीभ से स्पर्श करें अगर आप जीभ से स्पर्श करती हैं तो निश्चित रूप से पुरुष के अंदर अत्यधिक जोश भर जाता है

10. हाथ को चूमना

पति को सबक

अगर आप चाहती हैं कि एक पुरुष रिलेशन के दौरान अत्यधिक उत्तेजित हो जाए, तो उसकी हथेलियों को चूम करके उत्तेजित कर सकते हैं यह एक एक प्रकार का शारीरिक संबंधों से संबंधित पार्ट नहीं है लेकिन पुरुषों के अंदर जोश भरने का कार्य करता है। जब महिला अपने साथी पुरुष के हाथों कोई चुनौती है तो पुरुष काफी हद तक उत्तेजित हो जाते हैं.

11. मेल पार्ट के हिस्से से जोश भरना

दोस्तों पुरुष की के अंदर जोश भरने के लिए मेल पार्ट के कई हिस्से काफी महत्वपूर्ण माने जाते हैं जब भी महिला पुरुष के साथ रिलेशन बनाने का विचार करती है और उसके अंदर उत्तेजना पैदा करना चाहती है तू मेल पार्ट के कई हिस्से उत्तेजना का काम करते हैं। मेल पार्ट का ऊपरी हिस्सा जो मेल पार्ट का अग्रभाग होता है, इसे ग्लैन कहा जाता है.

यह हिस्सा काफी संवेदनशील होता है जिसको हाथों से छूने या जीभ से छूने से पुरुष जोश से भर जाता है। महिलाओं को चाहिए कि पुरुष को उत्तेजित करने के लिए मेल पार्ट के अग्रभाग को गीले होठों से छुएं कई महिलाएं मुखमैथुन भी करती हैं अगर आप मेल पार्ट के अग्रभाग को मुंह में भरेंगे तो पुरुष जोश से भर जाता है।

12. मेल पार्ट की अंदरूनी त्वचा पर चुम्बन करने से

love

मेल पार्ट की अंदर की त्वचा काफी संवेदनशील होती हैं यह त्वचा मेल पार्ट के अग्रभाग और shaft को मिलाने वाली होती है जिसकी वजह से और उसकी त्वचा अग्रभाग से पीछे हट जाती है इसे फ्रैनुलम कहा जाता है।इस त्वचा को हाथ और मुंह दोनों के द्वारा या लुब्रिकेंट के द्वारा उत्तेजित करने में मदद करती हैं

13. लुब्रिकेंट की मदद से

महिलाएं अपने साथी पुरुष को उत्तेजित करने के लिए लुब्रिकेंट का भी सहारा ले सकती हैं लुब्रिकेंट को मेल पार्ट के अग्रभाग और फ्रैनुलम भाग पर लगाकर उन्हें उत्तेजित करते हैं। इसके अलावा भी महिलाएं अन्य कई तरीके पुरुषों को जोश भरने का कार्य कर सकती हैं।

FAQ : पुरुष को जोश कब आता है

पार्ट की कमजोरी कैसे दूर करें ?

पार्ट की कमजोरी को जड़ से दूर करने के लिए अश्वगंधा शिलाजीत सफेद मुसली जैसी जड़ी बूटियों से निर्मित आयुर्वेदिक औषधियों का सेवन अधिक करना चाहिए।

जोश बढ़ाने वाले टेबलेट कौन से हैं ?

पुरुषों में जोश बढ़ाने वाली टेबलेट भी आगरा मैन फोर्स होते हैं जिनको रिलेशन बनाने से 1 घंटे पूर्व लेने से व्यक्ति के अंदर असीम उत्साह आ जाता है और कई घंटों तक जोश बना रहता है।

अगर पार्ट को छूने से भी उत्तेजना ना आए तो क्या करें ?

अगर पुरुष पार्ट को छूने के बावजूद भी जोश नहीं आता है तो निश्चित रूप से इस रेल लाइन की कमजोरी है उसे डॉक्टर से संपर्क करना चाहिए और उचित इलाज करना चाहिए।

निष्कर्ष

दोस्तों हम अपने इस आर्टिकल के माध्यम से आपको पुरुषों में जोश कब आता है जैसे महत्वपूर्ण विषय पर जानकारी देने का प्रयास किया हालांकि पुरुष मैं अगर किसी भी प्रकार की लैंगिक समस्या ना हो तो हमेशा स्त्री के प्रति आकर्षित और उत्तेजित रहता है

कई बार यह देखा गया है कि बहुत सारे पुरुष स्त्री के साथ र रिलेशन के दौरान जोश की कमी महसूस करते हैं लेकिन महिला चाहे तो उसे पूरा जोश भर सकते हैं क्योंकि पुरुषों में ऐसे कई कामोत्तेजक अंग होते हैं जिनको मात्र महिला स्पर्श से उत्तेजना में परिवर्तित कर देते हैं.

osir news
यदि आपको हमारे द्वारा दी गयी यह जानकारी पसंद आई तो इसे अपने दोस्तों और परिचितों एवं Whats App और फेसबुक मित्रो के साथ नीचे दी गई बटन के माध्यम से अवश्य शेयर करे जिससे वह भी इसके बारे में जान सके और इसका लाभ पाये .

क्योकि आप का एक शेयर किसी की पूरी जिंदगी को बदल सकता हैंऔर इसे अधिक से अधिक लोगो तक पहुचाने में हमारी मदद करे.

अधिक जानकरी के लिए मुख्य पेज पर जाये : कुछ नया सीखने की जादुई दुनिया

♦ हम से जुड़े ♦
फेसबुक पेज ★ लाइक करे ★
TeleGram चैनल से जुड़े ➤
 कुछ पूछना है?  टेलीग्राम ग्रुप पर पूछे
YouTube चैनल अभी विडियो देखे
कोई सलाह देना है या हम से संपर्क करना है ? अभी तुरंत अपनी बात कहे !
यदि आप हमारी कोई नई पोस्ट छोड़ना नही चाहते है तो हमारा फेसबुक पेज को अवश्य लाइक कर ले , यदि आप हमारी वीडियो देखना चाहते है तो हमारा youtube चैनल अवश्य सब्सक्राइब कर ले .

यदि आप के मन में हमारे लिये कोई सुझाव या जानकारी है या फिर आप इस वेबसाइट पर अपना प्रचार करना चाहते है तो हमारे संपर्क बाक्स में डाल दे हम जल्द से जल्द उस पर प्रतिक्रिया करेंगे . हमारे ब्लॉग OSir.in को पढ़ने और दोस्तों में शेयर करने के लिए आप का सह्रदय धन्यवाद !

 जादू सीखे   काला जादू सीखे 
पैसे कमाना सीखे  प्यार और रिलेशन